ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है-

ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है

1-ग्रीन हाउस प्रभाव की परिभाषा-

ग्रीन हाउस एक प्रकार के विकिरण जमाव है जिसके कारण पृथ्वी के वायुमंडल के निचले स्तर में तापमान की वृद्धि हो रही है। पृथ्वी पर जीवन को बनाए रखने के लिए प्राकृतिक ग्रीनहाउस प्रभाव की मौजूदगी आवश्यक है, जोकि प्राकृतिक रुप से वायुमंडल में उत्पन्न होता है।

ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है
ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है

मानव द्वारा हानिकारक गैसो के उत्सर्जन से ग्रीन हाउस गैसो का प्रभाव वायुमंडल में तेजी से बढ़ता जा रहा है, जिसके कारण पृथ्वी के तापमान में वृद्धि होती जा रही है और इसी कारणवश पृथ्वी पर ग्लोबल वार्मिंग की समस्या उत्पन्न हो रही है।

ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है
ग्रीन हाउस प्रभाव क्या है

2-ग्रीन हाउस प्रभाव और ग्लोबल वार्मिंग

वायुमंडल में मौजूद मुख्य ग्रीन हाउस गैसो जैसे कि कार्बन डाइऑक्साइड (CO₂), जल वाष्प (H₂O), मीथेन (CH₄)), ओजोन (O₃), नाइट्रस ऑक्साइड (N₂O) आदि द्वारा सबसे ज्यादे गर्मी उत्पन्न की जाती है। पृथ्वी के वायुमंडल का औसत तापमान लगभग 15⁰  सेल्सियस है (59 ⁰ फारेनहाइट) है, वही ग्रीनहाउस प्रभाव के बिना यह 18 डिग्री फारेनहाइट कम होता।

इसी कारण से ही बर्फ की चादरे और ग्लेशियर पिघलते जा रहे है, जिसके कारणवश महासागर के स्तर में वृद्धि हुई है। गर्म जलवायु के वजह से वर्षा और वाष्पीकरण की घटनाओं में बढ़ोत्तरी होती है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण मौसम की स्थिति भी बदल गयी है, जिससे कुछ स्थान गर्म और कुछ स्थान नम होते जा रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *