• Home
  • /
  • नवाबी नस्ल के सफेदपोश पालथी मारे बैठे थे यहां सफेदपोश का क्या अर्थ हैलखनवी अंदाज पाठ के लेखक यशपाल का जीवन व रचना परिचय लिखिए

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न उत्तर Class 10th | कक्षा 10 हिंदी पाठ 12 के प्रश्न उत्तर (यशपाल)

लेखक की गाड़ी छूट रही थी। लेखक जरा दौड़कर सेकण्ड क्लास के एक डिब्बे में बैठे डिब्बे में पहले से ही एक भद्र से दिखाई देनेवाले लखनऊ के नवाब साहब बैठे थे। लेखक के अचानक डिब्बे में आ जाने से उन भद्र सज्जन की आँखों में एकान्त चिन्तन में विघ्न का मन्तोष दिखाई देने लगा। नवाब साहब ने लेखक से मेल-जोल बढ़ाने अथवा संवाद स्थापित करने जरा भी रुचि न दिखाई। इससे लेखक को लगा कि नवाब साहब उससे बातचीत करने का तनिक भी उत्सुक नहीं है।